शाहीन बाग

पर Sumit Sarathe द्वारा प्रकाशित

आज कल दिल्ली का शाहीन बाग lime light में बना हुआ है। caa के विरोध में हो रहा ये प्रदर्शन न्यूज़ चैनलों के लिए एक बहुत ही बढिया चर्चा का विषय बना हुआ है। इस स्थिति में हम जैसे लोगो को जो इससे दूर है उन्हें ये जानने की जरूरत है कि ये प्रदर्शन क्या है?,क्यों हो रहा है?,इसकी असलियत क्या है और इस सब के पीछे कौन है। हमें इस सब के बारे में जानने की जरूरत है।

हम में से ज्यादा तर लोग इन सब के बारे में जानने के लिए न्यूज़ चैनल का सहारा लेते हैं। मगर क्या ये न्यूज़ चैनल हमें पूरी तरह सच्चाई बताते हैं, या सिर्फ अपनी TRP बढाने के लिए ही इसे एक जलती आग सा मुद्दा बना रखा है।

इस परिस्थिति में हमारे पास न्यूज़ चैनलों की बात को सच मानने के अलावा और कोई चारा नहीं होता, मगर देश के नागरिक होने के नाते हामारा शाहीन बाग के विषय में जानना आवश्यक हो जाता है, और इसमें भी पूरी सच्चाई को जानना और सही मुद्दे को समझना बेहद अहम है।

क्या ये प्रदर्शन कारी सचमे सिर्फ CAA के विरोध में ही दंगे कर रहे हैं या फिर इसमें कोई राजनीति का भी हाथ है।

क्या विपक्ष की सरकार इस मुद्दे के सहारे केन्द्र की सरकार को घेरने की कोशिश कर रही है,इस प्रकार के कई सवाल है जिनका जवाब मिलना जरुरी है।

सीएए के बारे में फैले इस भ्रम को दूर करना होगा कि हमारी नागरिकता खतरे में है। हमें एनआरसी के विषय में जानना होगा और जागरूक होना होगा।

इस के लिए आप को गूगल की और सोशल मीडिया की सहायता लेनी चाहिए जिससे आप सच को जान सकें और सच का साथ दे सकें।

श्रेणी: Uncategorized

0 टिप्पणियाँ

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.